Geetmala Hindi Lyrics

Aa Ab Laut Chale Nain Bichhaaye | आ अब लौट चले नैन बिछाये

Aa Ab Laut Chale Nain Bichhaaye Lyrics | आ अब लौट चले नैन बिछाये - बोल

आ अब लौट चले
नैन बिछाये, बाहें पसारे
तुझको पुकारे देश तेरा

सहज है सीधी राह पे चलना
देख के उलझन बच के निकलना
कोई ये चाहे माने ना माने
बहोत है मुश्किल गिर के संभलना

आँख हमारी मंज़िल पर है
दिल में खुशी की मस्त लहर है
लाख लुभाये महल पराये
अपना घर फिर अपना घर है

Aa Ab Laut Chale Nain Bichhaaye Lyrics

Aa ab laut chale
Nain bichhaaye, baahen pasaare
Tujhako pukaare desh tera

Sahaj hai sidhi raah pe chalana
Dekh ke ulajhan bach ke nikalana
Koi ye chaahe maane na maane
Bahot hai mushkil gir ke snbhalana

Ankh hamaari mnjil par hai
Dil men khushi ki mast lahar hai
Laakh lubhaaye mahal paraaye
Apana ghar fir apana ghar hai

(अतिरिक्त जानकारी)

गायक: मुकेश, लता मंगेशकर, गीतकार: शैलेन्द्र, संगीतकार: शंकर जयकिशन, चित्रपट: जिस देश में गंगा बहती है (१९६०)

Aa Ab Laut Chale Nain Bichhaaye - Song | आ अब लौट चले नैन बिछाये- गीत

Previous Post
Aa Aa Bhi Ja, Raat Dhalane Lagi | आ आ भी जा, रात ढलने लगी
Next Post
Aa Bhi Ja, Aa Bhi Ja, Ai Subah | आ भी जा, आ भी जा, ऐ सुबह

Related Posts

Menu

Pin It on Pinterest